आभार होने की शक्ति को पहचाने एवं सफल होने उनका प्रयोग करें

आभारी होना अस्तित्व से सम्पर्क बढ़ाना है । आभार प्रकट करने में अनन्त शक्तियों से जुड़ना होता है । आभार शब्दों में नहीं, भावों में होता है । यह स्वयं की उस भावदशा का नाम है जो प्रकृति के साथ तदाकार होना है । कृतज्ञ होना शक्तिमान होना है । मन्त्रों में तभी तो सबको प्रणाम कहा जाता है । यही आभार मन्त्र-शक्ति बनता है । thanks
मैं आभारी हूं । हम सब अनेक शक्तियों की कृपा से है । उनके संयोजन से हमारा जीवन संभव है । मुझे उनकी कृपा का बोध सदैव रहना चाहिए । ऐहसानों को याद रखना ऐहसानमन्दी है ।
आकाश, वायु, जल, पृथ्वी एवं अग्नि इन पंच भूतो/शक्तियों का मैं आभारी हूं । मेरा अस्तित्व इनसे है । समस्त वनस्पति व जीव मेरे होने में कारण है, सहयोगी है । उनसे मैं निर्मित हूं । रचनाकार स्वयं से भिन्न नही है उससे हम अविभक्त है । अस्तित्व को प्रणाम कर शक्तियों का उपयोग सही दिशा में किया जा सकता है । स्वस्थ होने के लिए की गई प्रार्थना तभी कार्यकारी है।

कृतज्ञता बनाम कृतध्नता

कृतज्ञता की शक्ति बहुत हितकारी है । कृतध्नता नकारात्मकता है । नमक हलाली सकारात्मकता है । नमक हराम होना अपने से दूर जाना है । यह स्वयं अपने पांव पर कुल्हाड़ी मारना है । अपने कर्मों से, अपनों से दुर जाना है । नमक हराम लोग स्थायी सम्बन्ध नहीं बना पाते हैं । ऐहसान स्वीकारने वाले दूसरों का दिल जीत लेते हैं । उनसे जुड़ जाते हैं ।
कृतज्ञ होना एक बड़ा गुण है । कृतज्ञ होने से व्यक्तित्व खिलता है । कृतध्नता अवगुण है । मतलबी, चालाक व धूर्त लोग काम निकालने को अपनी कला मान कर दूसरों की अच्छाई को स्वीकार नहीं करते हैं । वे हर कार्य का श्रेय खुद लेते हैं । दूसरों को मोहरा मानते हैं । उन्हे अपनी बाजीगरी पर भरोसा होता है । ऐसे लोग आभारी होना नहीं जानते हैं ।
जो लोग कृतज्ञ नहीं होते हैं वे अपने जीवन में असफल होते हैं । क्योंकि वे अपनी जिम्मेदारी नहीं लेते व दूसरों से अपना कार्य करवा कर भूल जाते हैं । इनमे वफादारी नहीं होती है । सहयोग करने वाले को वे लोग महत्व नहीं देते हैं । स्वयं उस डाल को काटते हैं जिस पर वे बैठते हैं ।

Related Posts:

यहां मेरा कुछ नहीं है, सब पर के सहयोग से है

धन्यवाद केैसे देना कि वह उन तक पहुँचे? भाग-दो

हम सब में कुछ खास बात है: सुखी होने याद रखें

प्यार का प्रतिउत्तर व आन्नद कैसे पाएँ?

 

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s