क्या कार्य पूरा करने हेतु ‘‘छोटा रास्ता’’ चुनना उचित है ?

जीवन में हम सब ‘‘शोर्ट कट’’ खोजते हैं । अंधी दौड़ में शीघ्र जीतने हेतु ‘‘छोटा रास्ता’’ चुनना अच्छा लगता है । Shortcutछोटे रास्ते से चल कर पाई सफलता उतनी महत्वपूर्ण नहीं है । साध्य व साधन का पवित्र होना आवश्यक है । हमें शोर्ट कट से प्राप्त वस्तु का मूल्य पता नहीं पड़ता है । उसका महत्व समझ मंे नहीं आता है । शोर्ट कट कई बार महत्वपूर्ण को भूला देता है व गैर जरूरी महत्वपूर्ण हो जाते हैं । इससे प्राथमिकताओं के चयन में गड़बड़ी होने से अव्यवस्था व अशान्ति मिलते हैं ।
छोटे रास्ते से चल कर अन्ततोगत्वा जीतने का प्रमाण नहीं मिलता है । कई बार छोटे रास्ते अव्यवस्था उपजाते हैं । बेईमानी बढ़ाते हैं, दूसरों का हक छिनते है, कामचोरी बढ़ाते हैं जो जीवन-मूल्यों के विरूद्ध है । जीवन मूल्यों को खो कर कुछ भी पाना अर्थहीन है । मात्र छोटे रास्ते से मेहनत बचती है व सरलता से तत्काल कार्य सिद्ध हो जाता है । अन्ततोगत्वा छोटा रास्ता चुनने वाले को दीर्घकाल में हमेशा हानि होती है ।
आज के रोगी वैकल्पिक चिकित्सा को दीर्घ होने के कारण उसे न चुन कर एलौपैथी को पसंद करते हैं क्योंकि उसमे तत्काल लाभ होता है । यद्यपि एैलोपैथी की दवाईयां के पाश्र्व प्रभाव हानिकारक होते हैं । हमने टी.एन. का उसी तर्ज पर जिज्ञासु का आपरेशन कराना चुना ।
तभी किसी ने लिखा है कि
रास्ता चलना स्वच्छ चाहे फेर हो, काम करना उत्तम चाहे देर हो ।
भोजन करना मां से चाहे जहर हो, सलाह लेना भाई से चाहे बैर हो ।।

Related Posts:

ऊर्जावान बने रहने व वजन घटाने सूर्य नमस्कार करें

लक्ष्य एवं सफलता पर विवेकानन्द के प्रेरक अनमोल वचन

ए. पी. जे. अब्दुल कलाम रचित प्रार्थना: अदम्य साहस जगाइए!

मनीष जैन (शिक्षान्तर) : मेरे स्कूल में सिखाये गये 10 झूठ

2 विचार “क्या कार्य पूरा करने हेतु ‘‘छोटा रास्ता’’ चुनना उचित है ?&rdquo पर;

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s