मन/श्वांस को शान्त /संतुलित करने के लिए विभागीय श्वसन करें

रोग मुक्त होने मन को समता मेे रखना पड़ता है । श्वांस के असंतुलन से मन अशान्त होता है । इसे संतुलित करने में विभागीय श्वसन सहायक है । यह प्राणायाम के पूर्व की तैयारी है । यह हमारे श्वसन प्रक्रिया को सही करता है एवं फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाता है । इसके द्वारा फेफड़े के निम्न, मध्य व उपरी भाग में श्वांस भरा जाता है ।Sectional Breathing इसके तीन भाग है:
अधमा: पेट से श्वांस लेना
वज्रासन में बैठकर चिन मुद्रा में श्वांस पेट में भरें व छोड़े । चिन मुद्रा में अंगुठे को तर्जनी से लगाते हैं व हाथ को जांघो पर रखें । इसमे फेफडे़ के निम्न भाग में श्वांस भरती हैं ।
इसके 5 चक्र करें ।
सावधानी – इसमे छाती न हिले । पूरी प्रक्रिया को बिना झटके के, शान्ति से बिना रूके करें ।
मध्यमा: छाती से श्वांस लेना
वज्रासन में बैठकर चिन्मय मुद्रा में श्वांस छाती में भरें व छोड़े । चिन मुद्रा में चारों अंगुलियों को दबाने से चिन मय मुद्रा बनती है । इसमे फेफड़े के मध्य मेें श्वांस भरती है ।
इसके 5 चक्र करें ।
सावधानी – प्रक्रिया के दौरान पेट न हिले ।
अद्या: कन्धों से श्वांस लेना
वज्रासन में बैठकर आदि मुद्रा में श्वांस कंधों में भरें व छोड़े । इसमें अंगुठे सहित मुट्ठी बन्द रहती है ।
इसके 5 चक्र करें । इसमें फेफड़े के उपरी भाग में श्वांस भरती है ।
सावधानी – इसमे पेट व छाती न हिले ।
पूर्ण यौगिक श्वसन
वज्रासन में बैठकर ब्रह्म मुद्रा में पूरी श्वांस भरें व छोड़े । हाथ नाभि के पास रखें । इसमे पूरी श्वांस भरें । पहले पेट से, फिर छाती से तथा कंधों मंे भरें । फिर प्रश्वांस पहले पेट से, छाती से व कंधो से धीरे-धीरे छोड़ें । शिथिल होकर अभ्यास करें । यह अभ्यास लेट कर भी किया जा सकता है । चेहरे पर तनाव न लाएंे । इसके 5 चक्र करें ।
प्राणायाम करने से पूर्व सदैव इसे करना चाहिए ।

Related Posts:

तनाव व चिन्ता घटाने हेतु भ्रामरी प्राणायाम करें

हर रोज सर्वश्रेष्ठ कार्य कैसे करें व मस्ती से कैसे जिए :समापन भाग

मधुमेह निवारण शिविर का सार: योग व प्राणायाम एक पूरक चिकित्सा

हम सब में कुछ खास बात है: सुखी होने याद रखें

3 विचार “मन/श्वांस को शान्त /संतुलित करने के लिए विभागीय श्वसन करें&rdquo पर;

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s