कोलॅस्ट्रोल घटाने व कार्य क्षमता बढ़ाने का अचूक आयुर्वेदिक नुस्खा

अपनी कार्य क्षमता बढ़ा कर सफल होने, स्फूर्ति वान होने व चर्बी घटा कर तन्दरूस्त होने का  यह आजमाया हुआ नुस्खा है। अनेक लोगों ने इसका प्रयोग कर सफलता पाई है। नुस्खा निम्न प्रकार है:

मिश्रण: 50 ग्राम मेथी$ 20 ग्राम अजवाइन$10 ग्राम काली जीरीबनाने की विधिः- मेथी, अजवाइन तथा काली जीरी को इस मात्रा में खरीद कर साफ कर लें। तत्पश्चात् प्रत्येक वस्तु को धीमी आंच में तवे के उपर हल्का सेकें। सेकने के बाद प्रत्येक को मिक्सर-ग्राइंडर मंे पीसकर पाउडर बनालें। तीनों के पाउडर को मिला कर पारदर्शक डिब्बे में भर लेवें। आपकी अमूल्य दवाई तैयार है।

Kali jeeri

दवाई लेने की विधिः– तैयार दवाई को रात्रि को खाना खाने के बाद सोते समय 1 चम्मच गर्म पानी के साथ लेवें। याद रखें इसे गर्म पानी के साथ ही लेना है। इस दवाई को रोज लेने से शरीर के किसी भी कोने मंे अनावश्यक चर्बी/ गंदा मैल मल मुत्र के साथ शरीर से बाहर निकल जाता है, तथा शरीर सुन्दर स्वरूपमान बन जाता है। मरीज को दवाई 30 दिन से 90 दिन तक लेनी होगी।
लाभः– इस दवाई को लेने से न केवल शरीर मंे अनावश्यक चर्बी दूर हो जाती है बल्किः-

  • शरीर में रक्त का परिसंचरण तीव्र होता है। ह्नदय रोग से बचाव होता है तथा कोलेस्ट्रोल घटता है।
  • पुरानी कब्जी से होेने वाले रोग दूर होते है। पाचन शक्ति बढ़ती है।
  • गठिया वादी हमेशा के लिए समाप्त होती है।
  • दांत मजबूत बनते है। हडिंया मजबूत होगी।
  • आॅख का तेज बढ़ता है कानों से सम्बन्धित रोग व बहरापन दूर होता है।
  • शरीर में अनावश्यक कफ नहीं बनता है।
  • कार्य क्षमता बढ़ती है, शरीर स्फूर्तिवान बनता है। घोड़े के समान तीव्र चाल बनती है।
  • चर्म रोग दूर होते है, शरीर की त्वचा की सलवटें दूर होती है, टमाटर जैसी लालिमा लिये शरीर क्रांति-ओज मय बनता है।
  • स्मरण शक्ति बढ़ती है तथा कदम आयु भी बढ़ती है, यौवन चिरकाल तक बना रहता है।
  • पहले ली गई एलोपेथिक दवाईयां के साइड इफेक्ट को कम करती है।
  • इस दवा को लेने से शुगर (डायबिटिज) नियंत्रित रहती है।
  • बालों की वृद्धि तेजी से होती है।
  • शरीर सुडौल, रोग मुक्त बनता है।

स्वामी रामदेवजी के योग करने से दवाई का जल्दी लाभ होता है।
परहेजः– 1. इस दवाई को लेने के बाद रात्रि मंे कोई दूसरी खाद्य-सामग्री नहीं खाएं।

2. यदि कोई व्यक्ति धुम्रपान करता है, तम्बाकू-गुटखा खाता या मांसाहार करता है तो उसे यह चीजे छोड़ने पर ही दवा फायदा पहुचाएंगी।

3. शाम का भोजन करने के कम-से-कम दो घण्टे बाद दवाई लें।

(आभारः मानव सेवा केन्द्र, सादड़ी जिला पाली)

Related Posts:

अनेक रोगों का एक त्रियोग

ऊर्जावान बने रहने व वजन घटाने सूर्य नमस्कार करें

हर रोज सर्वश्रेष्ठ कार्य कैसे करें व मस्ती से कैसे जिए :समापन भाग

अलसीः चमत्कारी रामबाण औषधि क्यों व कैसे है ?

128 विचार “कोलॅस्ट्रोल घटाने व कार्य क्षमता बढ़ाने का अचूक आयुर्वेदिक नुस्खा&rdquo पर;

  1. Sir,
    I am suffring urinery problem. I suffring urinization with painful and low qty. and frunkantly (avg. an hrs.). I am taking ALFUSIN 10mg/day at after dinner. Our ultersound report is normal. No UTI and NO Stone but syptems are like stone or UTI. I am using alkohal 3-4 times in a month only. Avg. 2 pag per week.

    Can I use this and benifecry to me?

    Awaiting your answer on mail.

    Thanks in advance.

  2. क्या सामान्य अथवा ओसत वजन वाला व्यक्ति भी इस दवा का सेवन कर सकता है या भारी शरीर वालो के लिये ही है सामान्य वजन वालो को कोई नुक्सान तो नही होगा

  3. sir, काली जीरी लेनी है या कलौंजी , कृपया स्पष्ट करें, और मेथी भी आपने 2 प्रकार की बताई है, बड़ी और छोटी, लेकिन मार्केट में सब जगह १ ही तरह की मेथी मिली , पता नहीं की वो छोटी है या बड़ी ? गेहूं के दाने से कुछ छोटी मिल रही है। कृपया स्पष्ट करें।

      1. sir मैंने इसका प्रयोग शुरू किया है, एक बात और स्पष्ट करें कि इसकी कितनी मात्रा से पूरा फायदा मिलेगा- जैसे 250 gm+ 100 gm+ 50 gm या जैसा अपने बताया कि 50+ 20 +10gm ? और १ महीने मे कितनी मात्रा लेनी है ? और कितने महीने लेवे क्यूंकि कई जगह अलग अलग मात्रा बताई गई है .

    1. काली जीरी – Kalijiri Seeds : English Name : Purple Fleabane
      •Sanskrit Name : Sahadevi, Daudotpala
      •Hindi Name : Sahdevi, Sadodi

      काली जीरी के लाभ :
      यह आम जीरे से कुछ मोटा होता है
      इसको लेने से शुगर (डायबिटिज) नियंत्रित रहती है। बालों की वृद्धि होती है।
      गठिया वादी हमेशा के लिए समाप्त होती है. चर्म रोग दूर होते है. कोलेस्ट्रोल घटता है।
      शरीर में अनावश्यक कफ नहीं बनता है। पाचन शक्ति बढ़ती है। पेट के कीड़े नष्ट होते हैं.
      इसकी तासीर गर्म होती है.
      आज कल फेसबुक पर जो मेथी, अजवाइन और काली जीरी का फार्मूला बहुत चल रहा है, उसमें इसीका प्रयोग होता है.
      यह पंसारी की दुकान से लगभग 300/- रपये किलो के हिसाब से मिल जाती है.

  4. I am using this mixture for last two months. I am using methra (big lemon colour seeds, used in pickle) instead of small seeds of methi. This was suggested to me by a person who knows about all these medicines. Till now i am not finding any difference in me, infact i feel lot of bloating (wind) in stomach. My body does not take garam taasir wali things. My mouth gets try…….. will keep taking it for 90 days, lets see what difference does it makes in me.

  5. सर मैं गैस्ट्रिक प्रोब्लम की दवाई खा रहा हु तो क्या मैं इसे ले सकता हु मेरा वजन ४८ हैं उम्र २६ हैं ? और इसके खाने के बाद लस्सी दही खा सकते हैं क्या ? कृपया बताएं

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s