सफलता हेतु कार्य अधुरे न छोड़े, कार्य पूरा करें

आधे-अधुरे कार्य आपके व्यक्तित्व के अधुरेपन को दर्शाते है। सफलता हेतु हाथ में लिया काम पूरा करें, वे आपको पूरा बनाते है। हमारा लक्ष्य अस्तित्व की योजना को पूरा साकार करना होना चाहिए। कार्य को बीच में छोड़ देना पहले की मेहनत को बेकार करता है।

मैं जब आठवीं पढ़ता था ‘‘ बूटा और जीबा’’ नामक उपन्यास पूरा न किया जो आज तक न पूरा हुआ। अगर उस ईश्वरीय प्रेरणा को पूरा किया होता तो कितना अच्छा रहता । जिन बच्चों ने अपनी बाल-कल्पनाओं को साकार किया वे इतिहास बनाते है।

आज तक कितने कार्य सोचे, पकड़े व बीच में छोड़ दिये। फिर नए काम पर लग गए। नहीं ऐसा अब नहीं चलेगा।

अपनी योजना को पूरा करो। कार्य शुरु करने के पूर्व जितना सोचना है सोच लो, एक बार निर्णय कर कार्य पर लग गए तो फिर उसे बीच में अधूरा छोड़ने की इजाजत नहीं है। आर-पार की लड़ाई है। या तो कार्य पूरी सफलता प्राप्त करने हेतु अपने कार्य को पूरा करना पड़ता है। आने वाली बाधाएँ पार करो। हाथ में लिए कार्य को पूरा करो।

सफलता हेतु कार्य को बीच में न छोड़े,वरन अधूरे रह जाऐंगे।


8 विचार “सफलता हेतु कार्य अधुरे न छोड़े, कार्य पूरा करें&rdquo पर;

  1. मुझे लगता है कि यह सलाह थोड़ी परिष्कृत ढंग से दी जानी चाहिये थी। बात यह है कि यदि कोई काम हाथ में लिया गया और उसमें अनावश्यक बहुत अधिक समय लग रहा हो तो उसे कुछ दिनों के लिये छोड़कर नया काम हाथ में लेना प्राय: अधिक लाभकर सिद्ध होता है। हाँ, बहुत जल्दी किसी हाथ लिये काम को नहीं छोड़ना चाहिये।

    जीवन में कितने काम शुरू किये, इसका भी अपना महत्व है। अक्सर जो जितना अधिक आरम्भ करता है उतने ही अधिक उपलब्धियाँ उसकी झोली में होती हैं। इसलिये आरम्भन और प्रयोग (इनिशिएशन ऐण्ड एक्सपेरिमेन्टेशन) ज्यादा महत्व के हैं।

  2. Dear Sir, Thanks for sending your thoughts regularly. I am getting lot of benifits from it. I have read your book – Utho Jago. This is a boon for new commer who want to do something in their lifE. Now I am in oman but when I was in Gujarat that time I called you and sent yoyu a letter with UTHO JAGO poem. Hope you have received it.

    Regards

    Keep in touch.

    Regards

    Dinesh
    Muscat
    Oman

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s